मंगलवार, दिसंबर 21, 2010

छत्तीसगढ़ के बस्तर के असली मोगली "चंद्रू"
एक  गुमनाम नायक की सच्ची कहानी


                                                 (फोटो) चीता (टाइगर) के साथ खेलता हुआ चंद्रू 






                                                              (फोटो)  चंद्रू  अब इस  तरह अपने घर में.
 

विशेष :-  बचपन से चीता के साथ खेलने वाले बस्तर के चंद्रू पर फिल्म 1950 -55 के दरम्यान कभी बनी थी। इसे एक स्वीडिश फ़िल्मकार ने बनाई थी. उस समय इस फिल्म को कई अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार मिले थे. दुनियाभर में बस्तर और बस्तर का एक अनजान छः-सात साल का चंद्रू रातो-रात स्टार बन गया था. लेकिन जल्दी ही उसे भुला दिया गया. फिल्म निर्माण के करीब 40 -45 साल बाद नब्बे के दशक में वरिष्ठ पत्रकार केवल कृष्ण नें देशबंधु में विस्तृत रिपोर्ट प्रकाशित कर उसे गुमनामी से बाहर निकाला था। चंद्रू फिर कुछ दिनों तक चर्चा में रहा,  फिर भुला दिया गया.  चन्द्रू आज वृद्ध है और वैसे ही जी रहा है जैसे एक आम बस्तरिया आदिम। पता चला कि पिछली बारिश में उसका घर भी बह गया था.....उसकी गुमनामी की तरह।                                                                           
 

कोई टिप्पणी नहीं: